Skip to main content

Sad friendship quotes in hindi

Sad friendship quotes in hindi:


कोई भी बहुत ज़्यादा Busy नही होता, सबकुछ बस इसी बात पे depend करता है की, आप उनकी ज़रूरतों की list में कितने नम्बर पर हो।


लोग कहते है की, "दोस्त आते हैं और चले जाते हैं" लेकिन मैंने कभी नहीं सोचा था कि ये बात तुम पर लागू होगा।


कुछ लोगों की वफादारी, आपके लिए नही, बल्कि उनकी खुदकी जरूरतों के लिए होती है, एक बार उनकी ज़रुरतें ख़त्म हो जाये तो उनकी वफादारी भी ख़त्म हो जाती है।


कभी-कभी आपको कुछ रिश्ते 
खुद छोड़ने पड़ते हैं,
इसलिए नही की 
आप परवाह नही करते,
बल्कि, 
परवाह तो उन्हें ही नही होती है 
उन रिश्तों की।


गम इस बात का नही के...
दुश्मनों ने दुश्मनी निभाई है।
गम तो इस बात का है की...
दोस्त चुप थे हमारे।


'नकली दोस्त' होने से अच्छा है, की...
मैं 'अकेला' रहूं।


बड़ा दुख होता है,
उन लोगों को अपनी नज़रों से नीचे गिरता हुआ देख कर,
जिनकी इज़्ज़त करते थे हम दिलसे,
और बिठाया था अपने सिर पर!


सबसे बुरा तो तब लगता है, 
जब आपका Best friend 
आपको धीरे-धीरे 
किसी और से बदल देता है।


दोस्त असली है या नकली,
इसका पता हमेशा 
बुरे वक़्त में चलता है, जनाब।


अब जा के हमें एहसास हुआ, के....
हमनें कोई दोस्त खोया ही नही,
असलमे जिनको हमनें अपना दोस्त समझ था
वो कभी हमारे दोस्त थे ही नहीं।


कभी-कभी सिर्फ Facebook में ही नही,
बल्कि असल ज़िन्दगी में भी,
आपको कुछ लोगो को Unfriend करना पड़ता है।


ये सोच कर निराश मत होना की,
किसी ने आपको छोड़ दिया है,
अरे... निराश तो वो होंगे,
जब उन्हें अहसास होगा की, 
उन्होंने किसी ऐसे इंसान को छोड़ा था,
जो कभी भी उन्हें छोड़ने वाला नही था।


अरे.... माफ करना,
गलती तो मेरी ही है,
मैं तो भूल ही गया था, की....
मैं सिर्फ तब तक आपका दोस्त बन सकता हूँ 
जब तक आपको मेरी ज़रूरत हैं।


कभी-कभी आपको ये बात मान लेनी पड़ती है कि, 
कुछ लोग बस कुछ वक़्त के लिए ही आपकी ज़िन्दगी में आते हैं।


मैंने अब तक बहुत सारे 'अच्छे दोस्त' बनाये हैं।
मगर इन दोस्तों के साथ एक समस्या है,
वे कभी टिके ही नहीं।


सबसे दर्दनाक "अलविदा" वो हैं,
जिन्हें कभी 'कहा' ही ना गया हो,
और ना ही कभी 'समझाया' गया हो।


मुझे वो दिन काफी याद आते है,
जब हम कभी दोस्त हुआ करते थे।


दोस्ती 'काँच' की तरह 'नाजुक' होती हैं,
एक बार 'टूटने' के बाद,
इसे 'ठीक' तो किया जा सकता है, लेकिन...
'दरारें' हमेशा के लिए रह ही जाती है।


एक 'अच्छा' दोस्त 'जादू' की तरह होता है,
लेकिन 'जादू' कभी-कभी एक 'छलावा' भी हो सकता है।


मैं हमेशा 'उनके' पीछे था जिनके 'पीछे' कोई ना था,
आज 'पीछे' मुड़ के 'देखा' तो मेरे 'पीछे' कोई ना था।


भले आदमी की अच्छाइयों पर ज़माना खामोश रहता है,
पर बात जब उसके बुराई की हो तब गूंगे भी बोल उठते है।


गलती तो हमारी है, जो
हमने तुम्हें सबसे अलग समझा,
पर समझ तो अब आता है हमें, की
तुम्हारे में हमें समझने की औक़ात नही थी।


कुछ लोग बस,
आपको आपकी औक़ात दिखाने के लिए ही
आपके दोस्त बनते है।


कुछ रिश्ते तो बस
टूटने के लिए ही बनते है।


गलती तो मेरी ही थी,
आखिर भरोसा जो किया था मैंने।


मुझे बहुत बुरा लगता है की हम दोनो अब दोस्त नही है।
मगर मैं क्या भी करता,
तुम्हे मेरी परवाह नही थी,
तो मैं भी क्यों तुम्हारी परवाह करता।

Comments